Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

anant khairnar

     World first cotton sculptor Anant Khernal



अनंत खैरनार

अनंत खैरनार का जन्म और कला के प्रति रुझान

           विश्व के पहले कॉटन मूर्तिकार अनंत खैरनार का जन्म 1966 ईस्वी में नासिक महाराष्ट्र में हुआ है इनकी आरंभिक शिक्षा विज्ञान से हुई पर सदैव एक कलाकार इनके अंदर विद्यमान रहा अपने दोस्तों के साथ मिलकर अनंत खैरनार ने गणेश उत्सव के लिए पर्यावरण के अनुकूल गणेश की मूर्ति बनाना चाहते थे जो किसी भी प्रकार का कोई प्रदूषण न करें इसके लिए कॉटन को खरनाल ने चुना यहीं से उन्होंने अपने जीवन का लक्ष्य कला को भी बना लिया काटन मूर्तिकला के विकास पर अपना सारा ध्यान लगा दिया वर्तमान समय में इस आर्टफॉर्म को कला विद्यालयों में सम्मिलित कराना इनके जीवन का प्रमुख लक्ष्य है तथा देश के कोने कोने में आजकर कॉटन शैली का प्रशिक्षण प्रदान करते हैं

World first cotton sculptor Anant Khernal

       भारत के सबसे पहले काटन मूर्तिकार अनंत खैरनार ने अपने 30 साल के कलाकार जीवन में 2000 से अधिक मूर्तिशिल्प निर्मित किए आरंभ में छोटे आकार की कॉटन मूर्तियां बनाते रहे इनको Guinness Book of World record में दर्ज कराने के लिए भेजा परंतु गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड ने वापस लौटा दिया मेरे यहां अभी फिलहाल कोई ऐसी कैटेगरी नहीं है कुछ दिनों के पश्चात गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड ने अनंत खैरनार के सम्मुख एक टास्क रखा कि आप इस माध्यम में कुछ बड़ा और अद्भुत बना सकते हैं अनंत खैरनार ने इस चुनौती को स्वीकार करते हुए महात्मा गांधी की 22 किलो काटन से निर्मित 7.5 फुट ऊंची प्रतिमा बनाई अनंत खैरनार ने अपने नवीन कार्टन माध्यम और अद्भुत कला कौशल के लिए देश-विदेश में प्रसिद्ध है

          अनंत खैरनार ने स्थापित माध्यमों से अलग काटन को अपना माध्यम बनाया अनंत खैरनार के सम्मुख इस माध्यम को लेकर अलग प्रकार की चुनौतियां थी काटन मुलायम तथा सतह को पकड़ने में काफी कमजोर होता है पर अनंत खैरनार के अथक प्रयास से इन्होंने इस समस्या का एक समाधान निकाला अपनी स्नातक के पढ़ाई के दौरान केमिस्ट्री के प्रयोगात्मक लैब के अनुभवों का फायदा उठाते हुए एक ऐसा घोल तैयार किया जो cotton पर लगते ही ठोस और सतह पर काफी अच्छी पकड़ बना लेता साथ ही अब कॉटन और अधिक मजबूत तथा लंबे समय तक संग्रहित किया जा सकता था

अनंत खैरनार द्वारा नवीन माध्यम की खोज

 काफी संघर्षों के बाद अनंत खैरनार ने संसार को एक नए मूर्ति माध्यम के रूप में कॉटन से परिचित कराया सफेद दीया सामग्री देखने में कोमल और अत्यंत प्रभावशाली भी था अनंत खैरनार की अपनी इसी विशेषता ने आज देश-विदेश में उन्हें स्थापित मूर्तिकार का दर्जा दिलाया 

अनंत खैरनार के मूर्तिशिल्प

महात्मा गांधी, अमिताभ बच्चन, सचिन तेंदुलकर, प्रतिभा पाटिल, संत नामदेव, गणेश, सरस्वती आदि

अनंत खैरनार की शैली की विशेषताएं

अनंत खैरनार ने यथार्थवादी शैली में अपने मूर्तिशिल्प रचे हैं काटन के कोमल स्वभाव के कारण इनके मुख मुद्रा  सजीव प्रतीत होती है अनंत खैरनार ने अपने मूर्ति शिल्प के निर्माण में भाव को अत्यधिक सतर्कता के साथ अंकित किया है कॉटन पर कार्य करना अत्यंत कठिन है अनंत खैरनार के मूर्ति शिल्प उनके धैर्य और अथक परिश्रम का जीता जागता एक सबूत है जो उनके मानसिक इच्छाशक्ति का परिचय हमें आज भी कराते हैं



source-omgindia


अनंत खैरनार के चित्रों का संग्रह

विश्व के प्रथम कार्टन मूर्तिकार आनंद खैरनार के मूर्ति शिल्प कार्टन संग्रहालय नासिक में संग्रहित है

Anant khairnar के रिकॉर्ड

Limca Book of record 1997 

World first cotton sculptor Anant Khernal



Guinness Book of World record 1999

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ