Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Somalal shah

सोमालाल शाह
 
सोमालाल शाह का जन्म 14 फरवरी 1905 कपवड़ज गुजरात में हुआ सर जे जे स्कूल ऑफ आर्ट मुंबई से कला शिक्षा प्राप्त की कुछ समय के लिए बड़ौदा के कला भवन में प्रवेश किया तत्पश्चात् इंडियन सोसाइटी ऑफ ओरियंटल  में कला की बारीकियां सीखी यहां अवीन्द्रनाथ ठाकुर और उनके प्रमुख शिष्य का प्रभाव भी मौला लालसा के चित्रण कार्य पर पड़ा
सोमालाल शाह ने आरंभिक समय में तेल पद्धति में चित्र बनाना प्रारंभ किया परंतु बंगाल शैली के कलाकारों के संपर्क में आने के बाद शैली में व्यापक परिवर्तन दिखाई दिया सोमालाल शाह ने भारतीय विषय को अधिकतर यूरोपीय शैली में अंकित किया है चित्रों में हल्का वास प्रयोग किया है इनकी रंग योजना शांतिपूर्ण सरल सुरम्य है यही सरलता सुरम्यता एवं मीठापन इनकी शैली की प्रमुख विशेषता है जीवन के प्रेरक पक्षों, रम्य प्रसंगों एवं भाव युक्त चित्रों का सृजन किया है 
सोमालाल शाह के जीवन में निर्णायक प्रभाव कोलकाता में पढ़ा जहां पर इनके अंतःकरण के अनुकूल वातावरण मिला देश की समृद्ध कला परंपरा को देखने समझने का दृष्टिकोण लेकर गुजरात वापस लौटे यहां पर प्रसिद्ध कलाकार रविशंकर रावत से भी भेंट हुई लगातार कार्य करते हुए 1994  में निधन हो गया

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां